दिल्ली देश शहर और राज्य

पेपर लीक होने के कारण CBSE ने 12th के इकोनॉमिक्स और 10th के मेथ्स के एग्जाम को फिरसे करने का लिया फैसला।

बोर्ड के एक अधिकारी ने कहा  की फेसबुक और व्हाट्सप्प पर हुआ लीक पेपर में से कुछ सच्चाई मिली है जिस वजह से CBSE ने  पेपर दोबारा करने का फैसला लिया है 12th के इकोनॉमिक्स और 10th के मेथ्स के एग्जाम को फिरसे करने का लिया फैसला लेकिन  अभी तक नहीं पता की ये परीक्षा कब होगी। सीबीएसई ने येबी कहा है की इस हफ्ते में हम ऐलान करदेंगे की इनदोनो परीक्षा का ऐलान।
इस हफ्ते में करदेंगे और इंटर जांच के बाद  आदेश आए है की पेपर लीक करने वालो को कड़ी से कड़ी सजा दी जाएगी और बताया जा रहा है की प्रधान मंत्री ने इस बात पर बहुत नाराजगी जताते हुए जावड़ेकर से बात की है प्रधान मंत्री की नाराजगी पर क्राइम ब्रांच ने तुरंत एक्शन लिया है और कोचिंग  सेंट्रो के मालिकों को हिरासत में लेलिया है और उनसे पूछ ताछ चल रही है क्राइम ब्रांच के एक बड़े अफसर का कहना है की हम इनसे पेपर लीक होने के बारे पूछेंगे और क्राइम ब्रांच ने उन सब स्टूडेंटों को हिरासत में लेंगे जिनके मोबाइल व्हाट्सअप पर लीक पेपर आया था उन सबको कड़ी से कड़ी सजा  मिलेगी।
इस समय क्राइम ब्रांच की टीम अलग अलग 20 से 25 लोगो में पूछ ताछ कर रही है और पुलिस के अधिकारियो का कहना है की इस समय क्राइम ब्रांच के लिए सबसे बड़ी चुनौती पेपर लीक के सोर्स का लगाने की है सेंटरों के संचालको से पूछताछ कर रही है और एक एक कड़ी जोड़ने की कोशिश की जा रही है और पुलिस को इस बात की भी आशंका है  की कोचिंग सेंट्रो ने कही अपनी वहा वहा के लिए ये काम तो नहीं किया है की उनके स्टूडेंट अच्छे नंबरों से पास हो जाये और उनके कोचिंग सेंटर में पहले से जियादा स्टूडेंट बढ़ जाएँ और उनकी और उनके कोचिंग सेंटर की वहा वहा होने लगे!