उत्तर प्रदेश दिल्ली देश मध्य प्रदेश विदेश

17 दिन की जद्दोजहद के बाद जिंदगी की जंग हर गई पेनी।

17 दिन की जद्दोजहद के बाद जिंदगी की जंग हर गई पेनी।

कमांडेड कप्तान पेनी चौधरी 10 मार्च को रायगढ़ के मुरुड में हादसे की शिकार हो गई पेनी  क्रेश हेलीकॉप्टर  से भार निकलने की कोशिश कर रही थी तब उन्हें सर में हेलीकॉप्टर के रोटर से चोट लगी फिर तब उन्हें दक्षिड़ मुंबई के कोलांबा स्थित नौसेना अस्पताल आई एन एच् अस अश्वनी में भर्ती कराया। रोटर से चोट के कारण कैप्टन चौधरी  को इंटरनल बिलीडिंगहो  रही थी चोट की सर्जरी के बाद  से वह लाइफ सपोर्ट सिस्टम पर थी
लेकिन 17 दिन झूजने के बाद पेनी ने अंतिम साँस ली और पेनी करनाल के 5 सितार होटल नूर महल वह ज्वेल्स होटल्स के मालिक रिटायर कर्नल मनबीर चौधरी की  भतीजी थी और पेनी चौधरी का शरीर बुधवॉर  रात कर्नल पहुंचा और अब मॉडल टाउन शिव भूमि के पूरी मिलिट्री के साथ अंतिम संस्कार किया जाएगा।